बड़ी खबर: उत्तराखंड के इन 9 मैदानों को मिलेगी मेजबानी, लेकिन करना होगा ये काम

1465

देहरादून: क्रिकेट की दुनिया से उत्तराखंड के लिए बड़ी खबर आ रही है । पिछले सीजन रणजी समेत अन्य प्रतियोगिताओं के कई मुकाबलों की सफल मेजबानी के बाद उत्तराखंड के कई और मैदानों को भी बीसीसीआई इस साल मेजबानी दे सकती है। इन घरेलू टूर्नामेंट में उत्तराखंड की टीम खेलेगी या नहीं उसपर अभी भी संसय बना हुआ है लेकिन बीसीसीआई सेंट्रल जोन के हेड क्यूरेटर ने उत्तराखंड के क्रिकेट मैदानों का निरीक्षण करने के बाद नौ मैदानों को घरेलु क्रिकेट आयोजनों के लिए उपयुक्त पाया है । इन मैदानों को बीसीसीआई दिए गए निर्देशों के अनुसार सुधार करने के बाद घरोलू टूर्नामेंट में मेजबानी का मौका देगी ।

आपको बता दें कि पिछले सीजन में उत्तराखंड के रायपुर स्थित अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, अभिमन्यु क्रिकेट एकेडमी, सेलाकुई इंटरनेशनल स्कूल, तनुष क्रिकेट एकेडमी व हाईलैंडर क्रिकेट एकेडमी काशीपुर को मेजबानी का मौका मिला था। इस साल स्पोर्ट्स कॉलेज देहरादून, कसीगा इंटरनेशनल स्कूल, दून क्रिकेट एकेडमी कुआंवाला व मलखानी क्रिकेट ग्राउंड हल्द्वानी को बीसीसीआई ने आयोजनों के लिए हरी झंडी दे दी, सूत्रों के अनुसार अगर ये मैदान बीसीसीआई टीम द्वारा दिए गए दिशा निर्देशों को पूरा करते हैं तो कमेटी इन्हें भी अप्रूवल दे देगी, जो कि उत्तराखंड के लिए बेहद अच्छी बात होगी ।

इन मैदानों को विकेट, आउटफील्ड, सुपर सोपर, रोलर, ग्रास कटर, कवर्स समेत कई अन्य महत्वपूर्ण मसलों पर सुधार करना होगा। बीसीसीआई इसके पहले उड़ीसा और गुजरात के मैदानों पर ज्यादा फोकस करती थी लेकिन इस बार उत्तराखंड को सबसे ज्यादा मेजबानी मिलने की संभावना है । बता दें कि उत्तराखंड के देहरादून और हल्द्वानी-काशीपुर जोन में कई बड़े मैदान हैं, बीसीसीआई समन्वयक अमित पांडे ने कहा कि क्यूरेटर बीसीसीआई मानकों को ध्यान में रखकर काम करें तो अगले दो से तीन वर्षों में उत्तराखंड में कई विश्वस्तरीय मैदान तैयार हो सकते हैं। 

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here