Friday, November 27, 2020
Home उत्तराखंड संस्कृति उत्तराखंड व्यजंन

उत्तराखंड व्यजंन

कोदे का आटा नहीं है किसी दवा से कम, प्रधानमंत्री ने भी किया जिक्र, पढ़िए

कोदा या मडुआ कई अलग-अलग स्‍थानीय नामों से जाना जाता है। कोदे का वैज्ञानिक नाम इल्यूसीन कोराकाना है। बहुत ही सादा...

झंगोरे की खीर और छंछेरी बनाने की विधि जानिए, सरल है आज ही बनाइये

झंगोरे की छंछेरी - शायद आपने पहले अपने जीवन मे एक बार झंगोरे की छंछेरी जरूर खाई होगी। लेकिन आज के समय मे कम झंगोरे...

जानिए मां के हाथ के बने “पत्यूड़” क्यों होते हैं ज्यादा टेस्टी, ऐसे बनाते हैं इन्हें

शायद आपने पत्यूड़ जरूर खाए होंगे। लेकिन आपको अपनी मां के हाथ से बने अरबी के पत्यूड़ सबसे ज्यादा टेस्टी लगती होंगे।...

उत्तराखंड का मुर्गा मशरूम पर होगा शोध, जानिए कब और कैसे उगता है ये

मशरूम की खेती को लेकर हो रहे रिसर्च के बीच एक और जंगली मशरूम का वन अनुसंधान के अफसरों को पता लगा...

जब गांव में पहाड़ी खाने के साथ मेहमानों ने विदेशी खाने का लुफ्त उठाया, मेनू देख उड़े होश

उत्तराखंड के पहाड़ी गांव में एक ऐसी शादी चर्चा में है जहां शादी में ग्रामीणों ने अपने पहाड़ी खाने के साथ विदेशी खाने का...

औषधीय गुणों से भरपूर है कंडाली (सिसौण), ऐसे बनाएं कंडाली का साग उंगलियाँ चाटते रह जाओगे

कुमांऊ व गढ़वाल में कंडाली को काल्डी आला व सिसौण आदि कई नामों से जाना जाता है। हिंदी में इसे बिच्छू घास...

ये हैं उत्तराखंड के जंगल में मिलने वाले 10 महंगे फल, लेकिन हम लोग आज भी खाते हैं मुफ्त में

रैबार उत्तराखंड (देबानंद पंत)उत्तराखंड के जंगल में मिलने वाले फलों को बाजार से जोड़कर आर्थिकी संवारने का जरिया बनाया जा सकता है। जो फल...

खुशखबरी: पहाड़ के इस फल से बनी एंटी डायबिटीज दवा, मिला इंटरनेशनल पेटेंट

किल्मोड़ा उत्तराखंड के 1400 से 2000 मीटर की ऊंचाई पर मिलने वाला एक औषधीय प्रजाति है। इसका बॉटनिकल नाम ‘बरबरिस अरिस्टाटा’ है। यह प्रजाति...

आप घर पर भी बना सकते हैं उत्तराखंड की विश्व प्रसिद “बाल मिठाई” जानिऐ कैसे?

उत्तराखंड के अल्मोड़ा से पहचान बनानी वाली बाल मिठाई आज दुनिया में फेमश हो गई है क्योंकि बाल मिठाई आजकल उत्तराखंड के हर हिल स्टेशन...

पुरे भारत में फेमस हो गयी कोदू (मंडुवे) की बर्फी पुरे देश से आ रही भारी डिमांड ! जानिए कैसे बनी ये बर्फी !

मंडुवे (वैज्ञानिक नाम इल्यूसीन कोराकाना) को कुछ साल पूर्व तक गरीबों का आहार कहा जाता था। लेकिन, आज इसी मंडुवे के लोग दीवाने हो...

पत्थरी का अचूक इलाज है ये दाल – गुर्दे के रोगियों की दवा भी है। जानिए पहाड़ी क्यों करते पसंद?

यूं तो गहथ आमतौर पर एक दाल मात्र है, जो पहाड़ की दालों में अपनी विशेष तासीर के कारण खास स्थान रखती है। वैज्ञानिक...

क्या आप जानते हैं देहरादून में क्यों फेमस है गढ़भोज रेस्टोरंट ये विडियो आपको बताएगी कैसे पहुंचे गढ़भोज

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून मे पहाडी खाने का आनन्द लेना है ती गढ़भोज जाना ना भूलें उत्तराखंड स्पेशल खाना आप यहां पर चाव से...

Most Read

दुःखद खबर: एलओसी पर उत्तराखंड का एक ओर लाल शहीद, मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि

उत्तराखंड के लिए एक दुखद खबर सामने आई है। देवभूमि का एक और जवान भारत मां की रक्षा करते हुए शहीद हो गया। जम्‍मू-कश्‍मीर के पुंछ में...

उत्तराखंड में आरटीपीसीआर व एंटीजन टेस्ट की कीमतें कम हुईं

उत्तराखंड में कोरोना की आरटीपीसीआर और रैपिड एंटीजन जांच की कीमतें कम हो गई हैं। स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी के आदेश के...

जियो ने सीमांत गावों में लगाये 4G टॉवर, मुख्यमंत्री ने जताया कंपनी का आभार

चमोली जिले में बड़ी संख्या में जियो कंपनी मोबाइल टॉवर लगाने का काम कर रही है, चमोली के कई गांवों के बाद...

देहरादून स्मार्ट सिटी का काम जोरों पर, मुख्य सचिव ने कहा गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देकर समय पर हो कार्य

देहरादून : आज सचिवालय में मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने देहरादून स्मार्ट सिटी परियोजना की उच्च स्तरीय संचालन समिति बैठक की अध्यक्षकता की।...